Teri Soorat Song Lyrics | तेरी सूरत – Mohd. Ali Sahil Feat. Sachin Chauhan (Latest Ghazal 2018)

Teri Soorat is the latest hindi ghazal song of 2018 which is sung in the voice of artist Mohd. Ali Sahil . The lyrics of this hindi Ghazal song is bautifully penned by singer Mohd. Ali Sahil and music is directed by Sachin Chauhan . T-
Series Music company has all the copyrights to sell or distribute the music.

Song Title – Teri Soorat
Singer – Mohd. Ali Sahil
Music Composer – Sachin Chauhan
Lyrics Writer – Mohd. Ali Sahil
Music Label – T-Series

Teri Soorat Lyrics – English Font

Teri Soorat Mujhe Batati Hai
Teri Soorat Mujhe Batati Hai
Yaad Meri Tujhe Bhi Aati Hai…………………..
Teri Soorat Mujhe Batati Hai
Teri Soorat Mujhe Batati Hai
Yaad Meri Tujhe Bhi Aati Hai…………………..

Teri Soorat Mujhe Batati Hai…

Us Ke Ik Baar Dekhne Ki Adaa………………..
Us Ke Ik Baar Dekhne Ki Adaa………………..
Us Ke Ik Baar Dekhne Ki Adaa………………..

Dil Mein Sau Hasratein Jagati Hai…………………
Dil Mein Sau Hasratein Jagati Hai…………………
Dil Mein Sau Hasratein Jagati Hai…………………

Teri Soorat Mujhe Batati Hai…

Mere Dil Mein Wo Aayein Hain Aise…………………
Mere Dil Mein Wo Aayein Hain Aise…………………
Mere Dil Mein Wo Aayein Hain Aise…………………

Jaise Aangan Mein Dhoop Aati Hai………………..
Jaise Aangan Mein Dhoop Aati Hai………………..
Jaise Aangan Mein Dhoop Aati Hai………………..

Teri Soorat Mujhe Batati Hai…

Khwaab Mein Jab Bhi Dekhta Hoon Usey………………
Khwaab Mein Jab Bhi Dekhta Hoon Usey………………
Khwaab Mein Jab Bhi Dekhta Hoon Usey………………

Neend Aankhon Se Rooth Jati Hai………………..
Neend Aankhon Se Rooth Jati Hai………………..
Neend Aankhon Se Rooth Jati Hai………………..

Teri Soorat Mujhe Batati Hai…

Main To Saahil Hoon Mauj Darya Ki…………………
Main To Saahil Hoon Mauj Darya Ki…………………
Main To Saahil Hoon Mauj Darya Ki…………………

Mujh Ko Khud Hi Gale Lagati Hai…………………
Mujh Ko Khud Hi Gale Lagati Hai…………………
Mujh Ko Khud Hi Gale Lagati Hai…………………

Teri Soorat Mujhe Batati Hai…

तेरी सूरत – Hindi Font

तेरी सूरत मुझे बताती है
तेरी सूरत मुझे बताती है
याद मेरी तुझे भी आती है…………………..
तेरी सूरत मुझे बताती है
तेरी सूरत मुझे बताती है
याद मेरी तुझे भी आती है…………………..

तेरी सूरत मुझे बताती है…

उस की इक बार देखने की अदा………………..
उस की इक बार देखने की अदा………………..
उस की इक बार देखने की अदा………………..

दिल में सौ हसरतें जागती है…………………
दिल में सौ हसरतें जागती है…………………
दिल में सौ हसरतें जागती है…………………

तेरी सूरत मुझे बताती है…

मेरे दिल में वो आएं हैं ऐसे…………………
मेरे दिल में वो आएं हैं ऐसे…………………
मेरे दिल में वो आएं हैं ऐसे…………………

जैसे आँगन में धुप आती है………………..
जैसे आँगन में धुप आती है………………..
जैसे आँगन में धुप आती है………………..

तेरी सूरत मुझे बताती है…

ख्वाब में जब भी देखता हूँ उसे………………
ख्वाब में जब भी देखता हूँ उसे………………
ख्वाब में जब भी देखता हूँ उसे………………

नींद आँखों से रूठ जाती है………………..
नींद आँखों से रूठ जाती है………………..
नींद आँखों से रूठ जाती है………………..

तेरी सूरत मुझे बताती है…

मैं तो साहिल हूँ मौज दरया की…………………
मैं तो साहिल हूँ मौज दरया की…………………
मैं तो साहिल हूँ मौज दरया की…………………

मुझ को खुद ही गले लगाती है…………………
मुझ को खुद ही गले लगाती है…………………
मुझ को खुद ही गले लगाती है…………………

तेरी सूरत मुझे बताती है…

You May Also Like

About the Author: LyricsManiya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *